ब्लॉग

RSS

  • 30th जुलाई, 2022

    वर्षों की जुताई और रासायनिक खाद से खराब हो चुकी बेजान मिट्टी को लाभकारी सूक्ष्म जीवों की मदद से अच्छे स्वास्थ्य में वापस लाया जा सकता है। उस विषय पर एक वीडियो, "पौधों और मिट्टी के लिए लाभकारी जीवाणु", बताता है कि एक तरल घोल कैसे बनाया जाता है, जो लाभकारी जीवाणुओं से भरपूर होता है, जिसे आप अपनी मिट्टी और फसलों पर डाल सकते हैं। इसे भारत में फिल्माया गया था और अब यह स्पैनिश सहित 23 भाषाओं में उपलब्ध है।

    डिएगो मीना और मायरा कोरो इक्वाडोर के कोटोपैक्सी प्रांत में छोटे किसान समुदायों के साथ मिलकर काम कर रहे शोधकर्ता हैं, जहां उन्होंने कई समूहों को...

    अधिक

  • 18th जुलाई, 2022

    “कृषि पारिस्थितिकी पर प्रशिक्षण वीडियो – किसानों के हाथों में सीखने की शक्ति रखना” शीर्षक वाला एक लेख, जो इस बात पर प्रकाश डालता है कि कैसे एक्सेस एग्रीकल्चर (www.accessagriculture.org) वैश्विक दक्षिण में कृषि पारिस्थितिकी को और आगे बढ़ाने में मदद करता है, अभी जून 2022 के संस्करण में प्रकाशित हुआ है। लीसा इंडिया पत्रिका (अंक 24.2) ।

    लीसा (लौ एक्सटर्नल इनपुट एंड सस्टेनेबल एग्रीकल्चर), जिसका अर्थ है 'कम बाहरी आदान और टिकाऊ कृषि', को पारिस्थितिक कृषि से संबंधित व्यावहारिक क्षेत्र के अनुभवों को साझा करने के लिए...

    अधिक

  • 11th जुलाई, 2022

    एक्सेस एग्रीकल्चर की 10वीं वर्षगांठ के लिए समर्पित अतिथि ब्लॉग

    परंपरागत रूप से, कृषि सहायता सेवाओं का अपर्याप्त वितरण दुनिया के अधिकांश हिस्सों में एक बड़ी चुनौती रही है और अभी भी है।

    2012 से, एक्सेस एग्रीकल्चर 9 करोड़ से अधिक किसानों तक पहुंच गया है, और वैश्विक स्तर पर अधिक किसानों तक पहुंचने का प्रयास कर रहा है, क्षमता विकास और किसान-से-किसान गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण वीडियो के दक्षिण-दक्षिण आदान-प्रदान के माध्यम से कृषि पारिस्थितिक सिद्धांतों और ग्रामीण उद्यमिता को बढ़ावा दे रहा है।

    एक्सेस एग्रीकल्चर किसानों को...

    अधिक

  • 29th जून, 2022

    व्याधियों को उपचारित करने की आवश्यकता है; यह मानव, पशु और पौधों के लिए सत्य है। पौधों की सुरक्षा में, कीटनाशकों की तुलना में फफूंदनाशकों को शायद अधिक आसानी से अधिक स्वीकार्य देखा जाता है, जो पारिस्थितिकी तंत्र, मधुमक्खियों, पक्षियों और लोगों को नुकसान पहुंचाने के लिए जाने जाते हैं।

    लेकिन पौधों को रसायनों के बिना संरक्षित किया जा सकता है, जैसाकि भारत में एम.एस. स्वामीनाथन रिसर्च फाउंडेशन अपने किसान-प्रशिक्षण वीडियो की उत्तरोत्तर बढ़ती श्रृंखला में दिखा रहे है।

    मूंगफली में जड़ और तना गलन पर उनका नवीनतम किसान-प्रशिक्षण वीडियो अच्छी तरह से...

    अधिक

  • 11th जून, 2022

    7 जून 2022 को, एक्सेस एग्रीकल्चर टीम ने टोरंटो, कनाडा में सामुदायिक अनुबंध नवाचार श्रेणी में 2022 एरेल वैश्विक खाद्य नवाचार पुरस्कार प्राप्त किया। टीम में जोसफिन रॉजर्स, कार्यकारी निदेशक; पॉल वैन मेले, अंतर्राष्ट्रीय विकास निदेशक; और ग्रामीण उद्यमी कार्यक्रम के समन्वयक जेन नालुंगा, दूर से ही इस कार्यक्रम में सम्मिलित हुए।

    "स्थानीय स्वदेशी भाषाएँ और स्वदेशी ज्ञान वास्तव में एक्सेस एग्रीकल्चर के मूल में हैं," जोसेफिन रॉजर्स ने पुरस्कार स्वीकार करते हुए कहा। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि परिवर्तन और संकट का सामना करने के लिए विभिन्न देशों के...

    अधिक

  • 1st जून, 2022

    मानवता एक भयावह नए विश्व के कगार पर हो सकती है जहां एंटीबायोटिक्स अब काम नहीं करते हैं। एक संक्रमित घाव, उदाहरण के लिए बिगड़े हुए नाखून पर खरोंच से, संभावित रूप से घातक हो सकता है। शल्यचिकित्सा अत्यधिक संकटमय हो जायेगी। तपेदिक जैसी सामान्य बीमारियाँ एक बार फिर लाखों लोगों के जीवन को खतरे में डाल देंगी।

    समस्या यह है कि कुछ रोग पैदा करने वाले जीवाणु एंटीबायोटिक दवाओं के प्रतिरोधी होते हैं। जितने अधिक एंटीबायोटिक का उपयोग किया जाता है, उतनी ही जल्दी इन प्रतिरोधी जीवाणुओं का चयन हो जाता है और वे शीघ्र ही कई गुणा बढ़ जाते हैं। आवश्यकता से अधिक नुस्खे और...

    अधिक

  • 31st मई, 2022

    एक्सेस एग्रीकल्चर 10वीं वर्षगांठ के लिए समर्पित अतिथि लेख

    इस वर्ष एक्सेस एग्रीकल्चर की 10वीं वर्षगांठ का उत्सव मनाने हमसे जुड़ें। मैं इस मील के पत्थर का वर्णन "अभिनव किसान शिक्षण का एक दशक" के रूप में  करना चाहता हूं, जिसे स्थानीय भाषाओं में कृषि प्रशिक्षण वीडियो के प्रचार के माध्यम से प्राप्त किया गया है, जैसे कि योरूबा - मेरी मूल भाषा - और हौसा लोगों द्वारा बोली जाने वाली भाषा हौसा। योरूबा और हौसा नाइजीरिया में बोली जाने वाली प्रमुख भाषाओं में से हैं।

    एक्सेस एग्रीकल्चर एक अंतरराष्ट्रीय गैर सरकारी संगठन है जो...

    अधिक

  • 30th अप्रैल, 2022

    किसानों को नए विचारों की जरूरत है, और शोधकर्ताओं को विवरण की जरूरत है। जब ये दो पेशेवर समूह सहयोगात्मक या भागीदारी अनुसंधान के ढांचे में मिलते हैं, तो अक्सर यह स्पष्ट नहीं होता है कि किसे किस दिशा में विकसित होना है: क्या किसानों को अनुसंधान शिष्टाचार, व्यवस्थित रूप से विवरण एकत्र करने और विश्लेषण करने के बारे में जानने की जरूरत है, या क्या शोधकर्ताओं को किसानों से उनके अनुसंधान कार्य-सूची का मार्गदर्शन करने के लिए नए विचारों की आवश्यकता है?

    जब पश्चिम अफ्रीका से मैकनाइट फाउंडेशन के अनुदानकर्ता हाल ही में फ्रांस के मोंटपेलियर में अनुभव साझा करने के लिए...

    अधिक

  • 28th अप्रैल, 2022

    एक्सेस एग्रीकल्चर को यह घोषणा करते हुए हर्ष हो रहा है कि इसे 'सामुदायिक अनुबंध नवाचार' की श्रेणी में “2022 एरेल खाद्य नवाचार पुरस्कार” का विजेता नामित किया गया है।

    कनाडा में गुएल्फ़ विश्वविद्यालय के एरेल खाद्य संस्थान की ओर से “एरेल वैश्विक खाद्य नवाचार पुरस्कार”, खाद्य नवाचार और सामुदायिक प्रभाव के व्यापक क्षेत्र में वैश्विक उत्कृष्टता को मान्यता देता हैं।...

    अधिक

  • 4th अप्रैल, 2022

    हमें यह घोषणा करते हुए प्रसन्नता हो रही है कि एक आभासी कार्यशाला 6 अप्रैल 2022 को भारतीय समयानुसार अपराह्न 2.30 – 4.30 बजे (ग्रीनविच मध्यमान समय  प्रातः 09.00 - 11.00 बजे) "प्राकृतिक खेती वीडियो से सीखें और कमाएं - एक्सेस एग्रीकल्चर: किसानों, महिलाओं और युवाओं के लिए अवसरों का विस्तार" विषय के अंतर्गत आयोजित की जाएगी"।

    कार्यशाला का आयोजन राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंध संस्थान (मैनेज), प्राकृतिक खेती के लिए राष्ट्रीय गठबंधन (एनएफ कोअलिअशन) और...

    अधिक