ब्लॉग

RSS

  • 27th नवंबर, 2022

    50 से अधिक देशों के 260 से अधिक प्रतिभागियों ने 25 अक्टूबर 2022 को एक्सेस एग्रीकल्चर और कृषि-पारिस्थितिकी गठबंधन द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित "कृषि-पारिस्थितिकी को कैसे बढ़ाया जाए" पर वेबिनार में भाग लिया। विशेष वेबिनार इस वर्ष एक्सेस एग्रीकल्चर की 10वीं वर्षगांठ उत्सव के प्रमुख कार्यक्रमों में से एक थी।

     

    वेबिनार का अनुसरण करने वाले सक्रिय और संलग्न श्रोतागणों ने प्रतिष्ठित वक्ताओं और विशेषज्ञ दल के सदस्यों द्वारा "मेधावी प्रस्तुतियों और समृद्ध चर्चाओं" की सराहना की। वेबिनार मुख्य रूप से एक्सेस एग्रीकल्चर की उपलब्धियों के दशक, जो मुख्यधारा कृषि-...

    अधिक

  • 27th नवंबर, 2022

    खाद्य और कृषि संगठन की विज्ञानं एवं नवाचार संगोष्ठी 2022 अतिरिक्त कार्यक्रमों के हिस्से के रूप में 14 अक्टूबर 2022 को एक्सेस एग्रीकल्चर और आईएफओएएम एशिया द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित "डिजिटल सशक्तिकरण के माध्यम से असंबंधितों तक पहुंचना" पर एक वेबिनार में 40 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया।

     

    खाद्य और कृषि संगठन-अतिरिक्त कार्यक्रम खाद्य और कृषि संगठन की विज्ञानं एवं नवाचार संगोष्ठी की अगुवाई में आयोजित किए गए थे। उन्होंने खाद्य और कृषि संगठन सदस्यों और भागीदारों के लिए विज्ञान, प्रौद्योगिकियों और नवाचारों पर अपनी अंतर्दृष्टि प्रस्तुत करने का अवसर प्रदान किया जो...

    अधिक

  • 25th नवंबर, 2022

    रोसारियो कैडिमा एक उद्यमी किसान है जो सप्ताह में दो दिन कोलोमी, कोचाबम्बा में आलू खरीदने और बेचने में बिताती है। प्रसार कार्यकर्ता जुआन अलमांज़ा उसे अपने जैसे किसानों में कृषि प्रवीणता के उद्देश्य से वीडियो की एक श्रृंखलायुक्त एक डीवीडी दी।

    डीवीडी में भूमि की देखभाल पर स्पेनिश, क्वेशुआ और आयमारा भाषा में सात वीडियो शामिल थे। उन में से एक वीडियो मूंगफली के बारे में था, जो अन्य फलीदार फसलों की तरह, भूमि में नाइट्रोजन स्थिर करती है। रोसारियो ने हाल ही में अपने माता-पिता, दादा और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ डीवीडी देखी। उन्होंने तीन रातों में सभी वीडियो देखे, और उसने उन्हें...

    अधिक

  • 5th अक्टूबर, 2022

    लगभग 30 साल पहले, प्रख्यात मानविकीविद् पॉल रिचर्ड्स ने छोटे जोत वाले किसानों की प्रथाओं को नाट्यशाला या संगीत प्रस्तुति के समान एक प्रकार के कृत्य के रूप में वर्णित किया। किसान अभ्यास, पूर्वाभ्यास और तात्कालिक सुधार के माध्यम से कौशल और क्षमता प्राप्त करते हैं। मैंने हाल ही में सीखा है कि यही बात कृषि उपज के विपणन पर भी लागू होती है।

    इक्वाडोरियन एंडीज में, स्वीसऐड  पारिस्थितिक खेती पर 12 वर्षों से महिला संघों का उनके कौशल को मजबूत करने के लिए सहयोग कर रही है। उन्होंने किसानों को विभिन्न प्रकार की खाद का उत्पादन करना सिखाया, जिसमें गिनीपिग-मल...

    अधिक

  • 10th सितम्बर, 2022

    मैंने अब्राहम मुजिका से सीखा है कि आप कुछ साधारण उपकरणों और कुछ सस्ती सामग्री का उपयोग करके स्वयं सूक्ष्मजीवों का संवर्धन कैसे कर सकते हैं। अब्राहम ने मुझे और एक छोटे समूह को अपने कृषि-पारिस्थितिकी पाठ्यक्रम में दिखाया कि आप कुछ पत्ती-कूड़े को इकट्ठा करके आरम्भ कर सकते हैं। हमने कोचाबम्बा शहर में दो या तीन मोल (Schinus mole) पेड़ों के आधार से पत्तियों और ऊपरी मिट्टी को इकट्ठा किया।

    हम एक प्लास्टिक टेबल पर लगभग 5 किलो पत्ती-कूड़े और काली मिट्टी डालते हैं। हमने सूक्ष्मजीवों को खिलाने के लिए एक किलो कच्ची चीनी और एक किलो चोकर (प्रोटीन से भरपूर) और मिश्रण...

    अधिक

  • 31st अगस्त, 2022

    एक्सेस एग्रीकल्चर की 10वीं वर्षगांठ पर समर्पित अतिथि ब्लॉग

                                                                                     ...

    अधिक

  • 11th अगस्त, 2022

    मलावी फोरम फॉर एग्रीकल्चर एडवाइजरी सर्विसेज (माफास) ने 19 से 22 जुलाई 2022 को   लिलोंग्वे,  मलावी में अपना खेती और विस्तार सम्मेलन आयोजित किया। सम्मेलन ने विभिन्न हितधारकों को एक साथ लाया, जो मलावी में कृषि क्षेत्र में किसान समूहों से लेकर सेवा प्रदाता (राज्य और गैर-राज्य दोनों) और संगठन जो किसानों और किसान समूहों को वित्त समाधान प्रदान करने प्रसार का काम कर रहे हैं।

    माफास एक मंच है व्यावसायिकीकरण, मानकीकरण और गुणवत्ता आश्वासन प्राप्त करने के लिए सूचना साझा करने और कार्यकलापों के माध्यम से कृषि प्रसार और सलाहकार सेवाओं को मजबूत करने का ।

    एक्सेस...

    अधिक

  • 9th अगस्त, 2022

    4 पर 1000 इनिशिएटिव (4 प्रति 1000 पहल) और एक्सेस एग्रीकल्चर द्वारा 'किसानों को अन्य किसानों के साथ मृदा स्वास्थ्य पर सर्वोत्तम रहस्यों को साझा करने में मदद' शीर्षक से एक संवादमूलक वेबिनार का आयोजन किया गया 8 जुलाई को।

    चार प्रति हजार पहल का उद्देश्य जलवायु परिवर्तन को कम करने और खाद्य सुरक्षा बढ़ाने में मदद करने के लिए कृषि-मृदा में कार्बन भंडारण को हर वर्ष 0.4% तक बढ़ाना है।

    चार प्रति हजार पहल की ओर से सैमुअल ओटनाड और एक्सेस एग्रीकल्चर की ओर से ब्लेसिंग्स फ्लो द्वारा परिचयात्मक टिप्पणी के साथ  वेबिनार की शुरुआत हुई, जिसके बाद दो प्रस्तुतियाँ हुईं।...

    अधिक

  • 30th जुलाई, 2022

    वर्षों की जुताई और रासायनिक खाद से खराब हो चुकी बेजान मिट्टी को लाभकारी सूक्ष्म जीवों की मदद से अच्छे स्वास्थ्य में वापस लाया जा सकता है। उस विषय पर एक वीडियो, "पौधों और मिट्टी के लिए लाभकारी जीवाणु", बताता है कि एक तरल घोल कैसे बनाया जाता है, जो लाभकारी जीवाणुओं से भरपूर होता है, जिसे आप अपनी मिट्टी और फसलों पर डाल सकते हैं। इसे भारत में फिल्माया गया था और अब यह स्पैनिश सहित 23 भाषाओं में उपलब्ध है।

    डिएगो मीना और मायरा कोरो इक्वाडोर के कोटोपैक्सी प्रांत में छोटे किसान समुदायों के साथ मिलकर काम कर रहे शोधकर्ता हैं, जहां उन्होंने कई समूहों को...

    अधिक

  • 18th जुलाई, 2022

    “कृषि पारिस्थितिकी पर प्रशिक्षण वीडियो – किसानों के हाथों में सीखने की शक्ति रखना” शीर्षक वाला एक लेख, जो इस बात पर प्रकाश डालता है कि कैसे एक्सेस एग्रीकल्चर (www.accessagriculture.org) वैश्विक दक्षिण में कृषि पारिस्थितिकी को और आगे बढ़ाने में मदद करता है, अभी जून 2022 के संस्करण में प्रकाशित हुआ है। लीसा इंडिया पत्रिका (अंक 24.2) ।

    लीसा (लौ एक्सटर्नल इनपुट एंड सस्टेनेबल एग्रीकल्चर), जिसका अर्थ है 'कम बाहरी आदान और टिकाऊ कृषि', को पारिस्थितिक कृषि से संबंधित व्यावहारिक क्षेत्र के अनुभवों को साझा करने के लिए...

    अधिक