युवा उद्यमी लाता है बिहार (भारत) में स्मार्ट किसान शिक्षा

नीरज कुमार बिहार, भारत में स्थित एक एनजीओ, “खेती” के सह-संस्थापक हैं।
नीरज कुमार बिहार, भारत में स्थित एक एनजीओ, “खेती” के सह-संस्थापक हैं।
“खेती” पारिस्थितिक कृषि व्यवसाय को बढ़ावा देता है।
“खेती” पारिस्थितिक कृषि व्यवसाय को बढ़ावा देता है।
“खेती” के स्वयंसेवक ग्रामीण समुदायों तक पहुँच कृषि वीडियो दिखाने के लिए स्मार्ट प्रोजेक्टर काम लेते हैं।
“खेती” के स्वयंसेवक ग्रामीण समुदायों तक पहुँच कृषि वीडियो दिखाने के लिए स्मार्ट प्रोजेक्टर काम लेते हैं।
वीडियो टिकाऊ कृषि तकनीकों की खोज के लिए ग्रामीण समुदायों की मदद कर रहे हैं।
वीडियो टिकाऊ कृषि तकनीकों की खोज के लिए ग्रामीण समुदायों की मदद कर रहे हैं।

जब 27 वर्षीय नीरज कुमार ने एक्सेस एग्रीकल्चर “यंग एंटरप्रेन्योर चैलेंज फंड 2019” घोषणा के बारे में सुना, तो वह यह जानकर उत्साहित थे कि विजेताओं को डिजिसोफ्ट पोर्टेबल प्रोजेक्टर मिलेगा। नीरज बिहार के दुरडीह गाँव, पूर्वी भारत के एक राज्य, एनजीओ “खेती” के सह-संस्थापक हैं।
 

जो चीज उन्हें सबसे ज्यादा प्रभावित करती थी, वह यह थी कि प्रोजेक्टर में 80 से अधिक अंतरराष्ट्रीय और स्थानीय भाषाओं में कृषि विज्ञान और ग्रामीण उद्यमिता पर 200 से अधिक वीडियो की पूरी एक्सेस एग्रीकल्चर लाइब्रेरी थी। इसके अलावा, प्रोजेक्टर एक बैटरी और एक पोर्टेबल सौर पैनल के साथ आता है, इसलिए वीडियो को ग्रिड से अलग और बिना इंटरनेट के दूरदराज के ग्रामीण समुदायों को दिखाया जा सकता है।

नीरज का संगठन “ खेती” किसानों और ग्रामीण समुदाय के लिए सामुदायिक विकास और प्रशिक्षण कार्यक्रमों पर केंद्रित है। इसने पारिस्थितिक कृषि व्यवसाय को बढ़ावा देकर ग्रामीण बिहार में खेती को टिकाऊ और लाभदायक बनाने के लिए एक किसान केंद्रित हस्तक्षेप मॉडल पेश किया है।

नीरज ने कहा, "हमारे कई किसान टिकाऊ खेती के तरीकों से अवगत नहीं हैं, जो उत्पादकता और लाभ में सुधार करते हैं, उस अवधि में पर्यावरणीय क्षति को कम करते हैं ।" “इसलिए, हम प्राकृतिक खेती और जैविक खाद के प्रयोग पर बैठकों और प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन करते हैं। हम अपने प्रशिक्षण कार्यक्रमों को और अधिक प्रासंगिक और सार्थक बनाने के लिए स्मार्ट प्रोजेक्टर और एक्सेस एग्रीकल्चर वीडियो रखने के इच्छुक थे। ”

एक्सेस एग्रीकल्चर वैश्विक दक्षिण में स्थानीय भाषाओं में गुणवत्तापूर्ण कृषि प्रशिक्षण वीडियो के लिए काम करने वाली एक विश्व-अग्रणी संगठन है। इसके वीडियो-लर्निंग दृष्टिकोण ने 60 मिलियन से अधिक छोटे किसानों को कृषि सिद्धांतों और ग्रामीण उद्यमिता के बारे में जानने के लिए सक्षम किया है, जिससे ग्रामीण आजीविका और टिकाऊ खाद्य प्रणाली में सुधार हुआ है।

एक्सेस एग्रीकल्चर यंग एंटरप्रेन्योर चैलेंज फंड ने युवाओं से कृषि वीडियो के प्रसार के एक व्यवसाय बनाने के लिए नए विचारों का प्रस्ताव करने का अनुरोध किया। नीरज उन छह प्रेरक और होनहार युवा उद्यमियों में से एक थे, जिन्होंने अगस्त 2019 में डिजिसॉफ्ट स्मार्ट प्रोजक्टर जीता और प्राप्त किया।

नीरज ने कहा, "जैसे ही हमें स्मार्ट प्रोजेक्टर प्राप्त हुआ, हमारी टीम और स्वयंसेवकों ने इसे दुरडीह गाँव और आसपास के समुदायों तक पहुँचाया, हमारे कृषि कार्यक्रमों को एक्सेस एग्रीकल्चर वीडियो के साथ समृद्ध किया।" “यहाँ, लोग हिंदी या हिंदी की कुछ बोलियों को समझते हैं। तो, हम ज्यादातर हिंदी में उपलब्ध वीडियो चलाते हैं। हालांकि, सामुदायिक किसानों की मांग के आधार पर, अन्य भाषाओं में उपलब्ध प्रासंगिक वीडियो भी चलाए जाते हैं।”

वीडियो ग्रामीण समुदायों को विभिन्न कृषि तकनीकों और तरीकों की खोज करने में मदद कर रहे हैं जो अधिक उत्पादक, टिकाऊ और पारिस्थितिक हैं, जिससे उनके कौशल में सुधार और कृषि उत्पादन में दक्षता और उनके राजस्व में वृद्धि हुई है।

“वे हमारे क्षेत्र में किसानों के लिए एक महान संसाधन हैं। उदाहरण के लिए, हमने  कम पानी के साथ धान उगाने और अधिक आसानी से खरपतवारों को प्रबंधित कर ना सीखा है ” एक किसान ने कहा। “यह आसान है जब हम अन्य स्थानों के किसानों से सीखते हैं। वीडियो हमारी कुछ गलतियों को ठीक करने में भी हमारी मदद करते हैं।”

नीरज के अनुसार, पलवार, वर्मीकम्पोस्ट, संरक्षण कृषि, पौधों और मिट्टी के लिए अच्छे जीवाणुओं, बीज संरक्षण और भंडारण, सब्जी के तैरते हुए बगीचे और पशुधन पर एक्सेस एग्रीकल्चर वीडियोज ने ग्रामीण समुदायों, विशेष रूप से युवा और महिला किसानों को बहुत मदद की है।

स्मार्ट प्रोजेक्टर और इसके साथ आने वाले वीडियो लाइब्रेरी की प्रशंसा करते हुए, उन्होंने कहा, "यह एक तरह का वीडियो शब्दकोश है, किसान समझ सकते हैं, अपने लिए चुन सकते हैं कि क्या सीखना है और उसमें से सर्वश्रेष्ठ लेना है।"

संबंधित लिंक : Entrepreneurs for Rural Access - India https://agtube.org/en/content/entrepreneurs-rural-access-india


वर्ग

Designed & Built by Adaptive - The Drupal Specialists